Adsense

लिखिए अपनी भाषा में

Wednesday, 20 February 2013

वेट लूज करने का एक आसान फंडा

www.goswamirishta.com


वेट कम करने के लिए घंटो पसीना बहाने कि बजाए योगासन की ही तरह रोजाना कुछ देर योग मुद्रा लगाकर बैठना भी बहुत फायदेमंद है।वैसे तो योग मुद्रा कई तरह की होती है लेकिन सूर्य मुद्रा लगाने के अनेक फायदे हैं। सूर्य की अंगुली यानी अनामिका,जिसे रिंग फिंगर भी कहते हैं, का संबंध सूर्य और यूरेनस ग्रह से है। सूर्य, ऊर्जा और स्वास्थ्य का प्रतिनिधित्व करता है और यूरेनस कामुकता और बदलाव का प्रतीक है।

विधि-

सूर्य की अंगुली को हथेली की ओर मोड़कर उसे अंगूठे से दबाएं। बाकी बची तीनों अंगुलियों को सीधा रखें। इसे सूर्य मुद्रा कहते हैं।

लाभ- यह जठराग्रि (भूख) को संतुलित करके पाचन संबंधी तमाम समस्याओं से छुटकारा दिलाती है।

- इसे नियमित करने से बेचैनी और चिंता कम होकर दिमाग शांत बना रहता है।

- यह मुद्रा शरीर की सूजन मिटाकर उसे हल्का और चुस्त-दुरुस्त बनाती है।

- इस मुद्रा का रोज दो बार 5 से 15 मिनट तक अभ्यास करने से शरीर का कोलेस्ट्रॉल घटता है।

- वजन कम करने के लिए यह असान क्रिया चमत्कारी रूप से कारगर पाई गई है।
Photo: वेट लूज करने का एक आसान फंडा
===================  (संयोगिता सिंह)

वेट कम करने के लिए घंटो पसीना बहाने कि बजाए योगासन की ही तरह रोजाना कुछ देर योग मुद्रा लगाकर बैठना भी बहुत फायदेमंद है।वैसे तो योग मुद्रा कई तरह की होती है लेकिन सूर्य मुद्रा लगाने के अनेक फायदे हैं। सूर्य की अंगुली यानी अनामिका,जिसे रिंग फिंगर भी कहते हैं, का संबंध सूर्य और यूरेनस ग्रह से है। सूर्य, ऊर्जा और स्वास्थ्य का प्रतिनिधित्व करता है और यूरेनस कामुकता और बदलाव का प्रतीक है।

विधि-

सूर्य की अंगुली को हथेली की ओर मोड़कर उसे अंगूठे से दबाएं। बाकी बची तीनों अंगुलियों को सीधा रखें। इसे सूर्य मुद्रा कहते हैं।

लाभ- यह जठराग्रि (भूख) को संतुलित करके पाचन संबंधी तमाम समस्याओं से छुटकारा दिलाती है।

- इसे नियमित करने से बेचैनी और चिंता कम होकर दिमाग शांत बना रहता है।

- यह मुद्रा शरीर की सूजन मिटाकर उसे हल्का और चुस्त-दुरुस्त बनाती है।

- इस मुद्रा का रोज दो बार 5 से 15 मिनट तक अभ्यास करने से शरीर का कोलेस्ट्रॉल घटता है।

- वजन कम करने के लिए यह असान क्रिया चमत्कारी रूप से कारगर पाई गई है।