Adsense

लिखिए अपनी भाषा में

Thursday, 19 December 2013

अनमोल बोल

www.goswamirishta.com

1. अश्रु कायर बहाते हैं।
अतः साहसी बनें और किसी अवसर के
खो जाने पर कभी भी आँसू न बहायें।
2. दूसरों की शिकायत करने
वाला व्यक्ति हमेशा अशांत रहता है
और कभी भी सफल नहीं हो पाता।
सफलता और शांति पाने के
लिये बेहतर है कि स्वयं को बदलें।
3. स्वर्ग में जाकर गुलामी बनने
की अपेक्षा नर्क में जाकर
राजा बनना बेहतर है।
4. भले ही आपका जन्म सामान्य हो,
आपकी मृत्यु इतिहास बन
सकती है।
5. अन्धेरी रात के बाद चमकीला सुबह
अवश्य ही आता है।
6. ‘आँखों से देखा’ एक बार
अविश्वसनीय हो सकता है किन्तु
‘अनुभव से सीखा’
कभी भी अविश्वसनीय
नहीं हो सकता।
7. कल की असफलता वह बीज है जिसे
आज बोने पर आने वाले
कल में सफलता का फल मिलता है।
8. भूत इतिहास होता है, भविष्य रहस्य
होता है और वर्तमान
ईश्वर का वरदान होता है।
9. कोई भी कार्य सही या गलत
नहीं होता, हमारी सोच उसे
सही या गलत बनाती है।
10. दूसरों की गलती निकालना बहुत
सरल है पर स्वयं
की गलती निकालना बहुत दुष्कर है।
11.
यदि किसी समस्या को सुलझाया जा सकता है
तो फिर
फिक्र करने की क्या आवश्यकता है और
यदि नहीं सुलझाया जा सकता तो फिर
फिक्र करने से
क्या फायदा है?
12. सद्कार्य वे फूल हैं जिनसे प्रेम
की माला बनती है।
13. हर अच्छा कार्य आरम्भ में असम्भव
होता है।
14. जो कार्य आज हमें सरल लगते हैं
वही कभी हमारे लिए
ही कठिन थे।
15. सच्ची खुशी तब मिलती है जब
आपके कार्य तथा वाणी से
स्वयं के साथ दूसरों को भी लाभ
मिलता है।
16. जहाँ प्रेम है वहीं जीवन है।
17. हम किसी बड़ी खुशी के इंतजार में
छोटी-
छोटी खुशियों को अनदेखा कर देते हैं,
छोटी-
छोटी खुशियों का आनन्द लीजिए,
एक दिन
वही छोटी छोटी खुशियाँ आपको बड़ी खुशी लगने
लगेगी।