Adsense

लिखिए अपनी भाषा में

Wednesday, 6 February 2013

तलाक के कारण

www.goswamirishta.com


कोई नहीं चाहता कि उसके वैवाहिक संबंधों में दरार आएं। लेकिन कई कारण ऐसे भी हैं जिनसे तलाक होने की आशंका बनी रहती है। कई बार आपस में एक-दूसरे के विचारों का  ना मिलना, एक-दूसरे की संस्कृति ना मिलना और भी इसी तरह के कारण तलाक के कारण बन जाते हैं। लेकिन इसके अलावा विवाहेत्तर संबंध भी तलाक के कारणों में बहुत महत्वपूर्ण कारण हैं। कई बार फैमिली मुद्दे भी तलाक के कारण हैं। तलाक के समय आपके पास कारणों का स्पष्टीकरण होना जरूरी है जिससे आप उन कारणों का सोल्यूशन ढूंढ सको और कुछ कारबार कदम उठा सकों। आइए जानें तलाक के मुख्य कारण कौन से है जिनसे शादी जैसा पवित्र बंधन टूटने की नौबत तक आ जाती है।
  • कई बार पति-पत्नी आपस में एक-दूसरे का समझ नहीं पाते और स्थितियों से पूरी तरह से वाकिफ नहीं होते और पूरी बात समझें बिना आपस में झगड़ने लगते है। इससे नौबत तलाक तक आ जाती है।
  • पति-पत्नी के रिश्तों में परिवार वालों की बहुत अधिक दखलअंदाजी भी तलाक का एक मुख्य कारण है।
  • विवाहेत्तर संबंध यानी शादी के बाद पति या पत्नी में से किसी एक का अफेयर होने से भी तलाक हो सकता है।
  • शादी से पहले किसी से प्रेम करना और शादी किसी और से होना या फिर जबरन शादी करवाना भी तलाक का कारण है।
  • पति या पत्नी का दोनों में से किसी एक का अच्छे घर से ताल्लुकात होना। यानी एक का बहुत अमीर होना और दूसरे का गरीब होना भी कई बार तलाक का कारण बन जाता है। दरअसल, बात-बात पर झगड़े होने पर दोनों का एक-दूसरे की कमजोरी को गिनाने से भी तलाक हो जाता है।
  • आज के समय में रिश्तों में प्यार ना होना भी तलाक का कारण है। यानी पति या पत्नी का अपने काम में बहुत व्यस्त होने से अपने साथी को पूरा समय ना देने के कारण दोनों के बीच प्यार कम होने लगता है।
  • एक-दूसरे का सम्मान ना करना, एक-दूसरे के काम में हाथ ना बंटाना, या फिर किसी एक का बहुत ज्यादा बीमार रहना भी तलाक का एक कारण बन सकता है।
  • पति द्वारा पत्नी को और पत्नी द्वारा पति को सेक्सुअली खुश ना रख पाना भी तलाक के कारण बन सकते हैं। पति या पत्नी में से किसी को यौन संबंधी भयंकर बीमारी होना या फिर पति का नपुंसक होना। यौन संबंधों का सही सलामत ना चलना।
  • दोनों का एक दूसरे के प्रति अविश्वास होना। यानी दोनों के रिश्ते में अविश्वास हो और दोनों बात-बात पर एक-दूसरे पर भरोसा करने के बजाय शक करते हो तो भी तलाक की नौबत आ सकती है।
  • पति या पत्नी में से किसी एक का लंबे समय तक गंभीर बीमारी का शिकार होना।
  • पत्नी को दहेज के लिए परेशान करना, पत्नी के बच्चे ना हो पाना भी तलाक का कारण बनने की आशंका रहती है।
  • किसी छोटी बात को लेकर झगड़ा होना उसको बढ़ा-चढ़ाकर तूल देना या फिर मार-पीट जैसी नौबत आने पर भी तलाक हो जाते हैं।
  • ऐसे आर बहुत से कारण हैं जिनसे तलाक होने की आशंकाएं रहती हैं। यदि आप चाहते हैं कि आपके संबंध आपके पार्टनर से अच्छे बने रहें और लंबे समय तक सही चलें तो इसके लिए जरूरी है एक-दूसरे को समझने की और इसके साथ ही जरूरी है कि आप दोनों पक्षों की तरफ से बराबरी का एडजस्टमेंट हो। तभी आप तलाक के कारणों से बच पाएंगे।