Adsense

लिखिए अपनी भाषा में

Thursday, 18 July 2013

गुलाब से बने गुलकंद में है कई चमत्कारिक गुण

www.goswamirishta.com

गुलाब से बने गुलकंद में है कई चमत्कारिक गुण

********************************************************
गुलाब सिर्फ एक बहुत खुबसूरत फूल ही नहीं है बल्कि यह कई तरह के औषधिय गुणों से भी भरपूर है। गुलाब की खुश्बु ही नहीं इसके आंतरिक गुण भी उतने ही अच्छे हैं। गुलाब के फूल में कई रोगों के उपचार की भी क्षमता है। नींद न आती हो , मानसिक थकावट हो तो सिरहाने के पास गुलाब रखकर सोएं. फिर देखिए परिणाम। आज हम आपको बताने जा रहे हैं गुलाब का गुलकंद खाने के फायदों के बारे में ....

1-गुलाब से बने गुलकंद में गुलाब का अर्क होता है जो शरीर को ठंडक पहुंचाता है। यह शरीर को डीहाइड्रेशन से बचाता है और तरोताजा रखता है। यह पेट को भी ठंडक पहुंचाता है। गर्मी के दिनों में गुलकंद स्फूर्ति देने वाला एक शीतल टॉनिक है,जो गर्मी से उत्पन्न थकान, आलस्य, मांसपेशियों का दर्द और जलन आदि कष्टों से बचाता है।

2- गुलकंद में विटामिन सी, ई और बी अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। भोजन के बाद गुलकंद का सेवन भोजन को पचाने के लिए फायदेमंद है और इसके सेवन से पाचन संबंधी समस्याएं दूर रहती हैं।

3- दिल की बीमारी में अर्जुन की छाल और देसी गुलाब मिलाकर उबालें और पी लें, हृदय की धडकन अधिक हो तो इसकी सूखी पंखुडियां उबालकर पीएं। आँतों में घाव हो तो 100 ग्राम मुलेटी ,50 ग्राम सौंफ ,50 ग्राम गुलाब की पंखुडियाँ तीनों को मिलाकर 10 ग्राम की मात्रा में लें। इसका 100 ग्राम पानी में काढ़ा बनाकर पीएं।

4-गर्मी के कारण चेहरे पर उत्पन्न छोटी-छोटी फुं सियाँ (एक्ने) गुलकंद के सेवन से धीरे-धीरे दूर होने लगते हैं। बच्चों में कृमि कष्ट (पेट में कीड़े) होने पर बाइविडिंग का चूर्ण गुलकंद में मिलाकर एक-एक चम्मच सुबह-शाम 15 दिनों तक देने से कृमि कष्ट से मुक्ति मिल जाती है।

5- गुलकंद लेने से पेट के रोग व अल्सर कब्ज आदि समस्याएं खत्म हो जाती हैं। रोजाना चम्मचभर गुलकंद खाने से आँखों की रोशनी ठीक रहती है। गुलकंद के नियमित सेवन से इसके पाचन के बाद बनने वाला रस आँतों के लिए बहुत हितकर होता है। पाचन क्षमता में सुधार, चयापचय क्रिया का नियमन, रक्तशोधन करने के लिए गुलकंद फायदेमंद होता है।

6- गर्मियों के मौसम में गुलकंद कई तरह के फायदे पहुंचाता है। हाजमा दुरुस्त रखता है और आलस्य दूर करता है। गुलकंद शरीर के तापमान को नियंत्रित करता है और कब्ज को भी दूर करता है। सुबह-शाम एक-एक चम्मच गुलकंद खाने पर मसूढ़ों में सूजन या खून आने की समस्या दूर हो जाती है। पीरियड के दौरान गुलकंद खाने से पेट दर्द में आराम मिलता है। मुंह का अल्सर दूर करने के लिए भी गुलकंद खाना फायदेमंद होता है।

7- गुलकंद में अच्छी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स हैं जो शरीर की प्रतिरोधी क्षमता बढ़ाते हैं और थकान दूर करते हैं। आपकी त्वचा के लिए भी यह बहुत फायदेमंद है। इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण हैं जो त्वचा की समस्याओं को दूर करते हैं और त्वचा हाइड्रेट रहती है।

Rose is in the many wondrous properties from gulkand

 ** ** ** ** ** ** ** ** ** ** * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * * rose is just a very khubsurat many flowers but it is also rich with aushdhiya properties is not just its internal properties rose khushbu. equally good. many diseases treatment in roses too. the mental exhaustion, sleep comes close to keeping the saharan rose soen. Then look at the results we're going to tell you. rose about the advantages of eating gulkand. ...

Made from 1-rose is rose extracts in gulkand body transmits coolness. it prevents the dihaidreshan and rejuvenating the body. It also transmits coolness stomach. summer days gulkand elation a soft tonic, which generated from heat fatigue, laziness, muscle soreness and irritation, etc from the 2-gulkand. suffering vitamin cE & b good volume after gulkand. digest food intake of beneficial to digestion related problems from its intake and remotely. 4-heart disease rose in the bark of Arjun and boil and drink, mixing Indian heart boiled dry pankhudiyan more then its SIP dhadkan. wound up in the intestines, 100 gram mullet , 50 g aniseed, 50 g rose pankhudiyan in all three of its 10 grams 100 grams water. BREW by SIP generated 4-heat face. small phun siyan (ekne) intake be gradually away gulkand. children suffer when the worm (worms in the stomach) in a mixed baividing gulkand-a teaspoon in the morning-evening 15 days from suffer from worm. 5-gulkand from stomach Disease and ulcers constipation etc problems are over chammachbhar every day from eating gulkand eyes light. fix. after its regular intake of gulkand digestive juice that would be prudent for the intestines become. digestive efficiency, metabolic regulation, action beneficial to raktashodhan gulkand. 6-summer season many advantages does gulkand. better hajma and laziness gulkand body away. Temperature controls and constipation too far one morning-evening is the spoon in the gums swelling or blood on eating gulkand come to correct the problem. during the period from eating gulkand stomach pain ulcers of the mouth away in comfort. to eat beneficial gulkand. 7-in good amounts of antioxidants that gulkand body resistant to increase capacity and fatigue to your skin. It is very rewarding. There is property that skin problems and hydrate the skin.(Translated by Bing)