Adsense

लिखिए अपनी भाषा में

Saturday, 16 January 2016

पेट की गैस को कम करने के तरीके : -

पेट की गैस को कम करने के तरीके : -
● पेट की गैस की बीमारी बहुत ही आम सी समस्‍या है जो बिना उम्र देखे किसी को भी हो जाती है। गैस ना केवल पेट में ही रहती है बल्कि यह पूरे शरीर में घूमती रहती है यहां तक की सीने तक भी पहुंच जाती है। पेट में गैस तभी बनती है जब आप सुबह भर पेट नाश्‍ता नहीं करते। यदि आपका भी पेट भूल जाता है तो आपको कुछ ऐसे उपाय आजमाने चाहिये जिससे आपको इससे छुटकारा मिल सके।
● कहीं आप ऐस भोजन का अधिक सेवन तो नहीं करते हैं जिससे गैस बनती हो। भोजन जैसे- सेम, मटर, केक, कार्बोनेट युक्त सामग्री, खट्टा फल, फूलगोभी, बंदगोभी, काजू, मुनक्का, सुपारी आदि से अधिक गैस बनती है। क्‍या आप जानते हैं कि सेधा नमक गैस को भगाने के लिये बहुत ही लाभकारी हो सकता है। खैर इसी तरह और भी कई तरीके हैं जिससे आप गैस को बनने से रोक सकते हैं।
● यहां तक की वज्रासन करने से भी पेट में गैस नहीं बनती। यह योग करने के लिये आपको खाने के बाद घुटने मोड़कर बैठ जाना चाहिये और दोनों हाथों को घुटनों पर रख लेना चाहिये। यह आसन 5 से 15 मिनट तक करें। गैस पाचन शक्ति कमजोर होने से होती है। यदि पाचन शक्ति बढ़ा दें तो गैस नहीं बनेगी। योग की अग्निसार क्रिया से आंतों की ताकत बढ़कर पाचन सुधरेगा।
1) भेजन चबा कर खाएं
यह बहुत जरुरी है कि आप खाने का छोटा-छोटा कौर लें और उसे पूरी तरह से चबा कर खाएं। बिना चबाए और बडा़ टुकडा़ खाने से पेट में गैस बनती है।
2) सोडा और जूस ना पिये
हम सोचते हैं कि सोडा पीने से पेट की गैस और दर्द गायब हो जाएंगे। लेकिन सोडे में मिला कार्बोहाइड्रेट और जूस में मिली चीनी गैस को बढावा देते हैं।
3) च्‍विंगम ना खाएं
च्‍विंगम चबाने से मुंह के दा्रा हमारे पेट में बाहर कि हवा चली जाती है जिस वजह से गैस पैदा होती है।
4) टहलने के लिये जाएं
भोजन करने के बाद हल्‍की वॉक करने जरुर जाएं। इससे खाना आसानी से हजम होगा और गैस नहीं बनेगी। ऐसा करने से वजन भी कम होता है।
5) स्‍मोकिंग छोडे़
स्‍मोकिंग से ना केवल डीहाइड्रेशन होता है बल्कि पेट में गैस भी बन जाती है।
6) हर्बल चीजे खाएं
ऐसी कई हर्बल चीज़े हैं जिसे आप खा सकते हैं जैसे, लौंग, सौंफ, इलायची, चक्र फूल आदि। इसे यदि गरम पानी के साथ खाया जाए तो पेट में गैस नहीं बनती।
7) खूब पानी पिये
दिनभर में 7-8 गिलास पीने से भी पेट की खाली जगहें भर जाती हैं इसलिये पेट में गैस नहीं बनती।